Bitcoin क्या है और बिटकॉइन कैसे Buy करें ?

Bitcoin क्या है & बिटकॉइन कैसे Buy करें ?

बिटकॉइन क्या है बिटकॉइन कैसे खरीदें?

दोस्तों एक बार फिर से स्वागत करते हैं आपका हमारी वेबसाइट के आज के इस आर्टिकल में आज का हमारा टॉपिक बहुत ही ज्यादा इंटरेस्टिंग होने वाला है क्योंकि आज हम आपके लिए लेकर आए हैं बिटकॉइन क्या है इसे कैसे खरीदें इसके बारे में हम आपको संपूर्ण जानकारी देने का प्रयास करेंगे तो जानने के लिए हमारी इस पोस्ट को शुरू से लेकर अंत तक पढ़ते रहिएगा

जैसा कि दोस्तो आपने डॉलर रुपए और यूरो जैसी करेंसी का नाम तो अवश्य ही सुना होगा कि आपने कभी बिटकॉइन का नाम सुना है। दोस्तों मेरे हिसाब से आपने भी दुकान का नाम अवश्य सुना होगा परंतु यह एक अलग प्रकार की हो सकते है और आप अपनी दुकान के बारे में अधिक जानकारी नहीं होगी। तो दोस्तों आज मैं आपको बिटकॉइन के बारे में सारी जानकारी देने जा रही हूं क्योंकि यह आज के समय की सबसे अधिक पॉपुलर currency मानी जाती है।

1 बिटकॉइन की कीमत ₹100000 से भी अधिक होती है यह कीमत निवेश के ऊपर निर्भर करती है।
दोस्तों बिटकॉइन की शुरुआत जनवरी 2009 में की गई थी और इस समय इसकी कीमत 0. 08 डॉलर पर कॉइन थी। अब तक जितने भी लोगों ने इस बिटकॉइन को खरीद लिया था वह आज के समय में लाखों रुपए की मालिक बन चुके है अगर आप भी लाखों रुपए के मालिक बनना चाहते हैं तो हमारी आजी की पोस्ट आपके लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद साबित होने वाली है तो जानने के लिए हमारे साथ बने रहिए।

विधि कोनिया अन्य कौन की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इनकी कीमत में घटाव और बढ़ाव होता रहता है जिससे आप ट्रेंडिंग करके भी इस से पैसे कमा सकते हैं।दोस्तों अगर आपको बिटकॉइन मार्केट के बारे में अच्छी खासी जानकारी है तो आप इसमें पैसे इन्वेस्ट करके अच्छे खासे पैसे वापस प्राप्त कर सकते हैं। इस लेख में मैं आपको बिटकॉइन और इसकी निवेश से जुड़ी जानकारी प्रदान कर रही हूं।

Bitcoin क्या है?

दोस्तों बिटकॉइन एक वर्चुअल करेंसी है इसको ना तो हम देख सकते हैं ना ही स्पर्श कर सकते हैं।
रुपए डॉलर, को आप फिजिकली रूप से देख सकते और अपने हाथों से स्पर्श कर सकते हैं परंतु अभी दुकान को ना तो देख सकते हैं ना छू सकते हैं। आप इस करेंसी को अपने मोबाइल फोन के वॉलेट में देख सकते हैं परंतु उसे अपने हाथों से छू नहीं सकते हैं।

रुपए और डॉलर सेंट्रलाइज्ड अथॉरिटी के अंतर्गत आते हैं परंतु बिटकॉइन में ऐसा बिल्कुल भी नहीं होता है। यह इंडिपेंडेंट होता है जिसके अंतर्गत एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति को डायरेक्ट ट्रांजैक्शन कर सकता है। उनके द्वारा किए गए ट्रांजैक्शन का रिकॉर्ड बिटकॉइन ब्लॉकचेन में किया जाता है ताकि सब कुछ पारदर्शी रहे।

जैसा कि हम आपको पहले ही बता चुके हैं बिटकॉइन की शुरुआत 2009 में की गई थी इसकी फाउंडर का नाम Satoshi नाकामोटो है।उन्हीं के नाम पर ही बिटकॉइन की करेंसी को मापा जाता है जैसे एक रुपए में 100 पैसे दिए जाते हैं। इसी प्रकार एक बिटकॉइन में 100,000,000 Satoshi होती हैं।

बिटकॉइन कैसे बनाते हैं ?

दोस्तों अब आपके मन में यह सवाल उठ रहा होगा कि बिटकॉइन कैसे बनता है जिस प्रकार रुपए को आरबीआई बनाती है उसी प्रकार बिटकॉन को कौन बनाता है।
तो आपके इस सवाल का साधारण सा जवाब है और हम जैसे लोग ही Bitcoin को बनाते हैं और खरीदते हैं और बेचते हैं। तो दोस्तों आज मैं आपको अपनी लैंग्वेज में सारी प्रोसेसिंग समझाने का प्रयास करती हूं बिटकॉन बनाने की प्रोसेसिंग को हम क्या कहते हैं।

Mining एक process होता है इसके अंदर हम अपने कंप्यूटर की सीपीयू या जीपीयू पावर के जरिए सब कुछ एल्गोरिथ्म का समाधान करते हैं। हर एक एल्गोरिथ्म को सॉल्व करने के लिए आपको कुछ रिवॉर्ड भी दिए जाते हैं और रिवॉर्ड के रूप में आपको कुछ बिटकॉइन दिया जाता है। बिटकॉइन को माइंड करने के लिए आपको एक टूल की आवश्यकता होती है जिसको हम माइनिंग टूल कहते हैं।वह व्यक्ति जो माइनिंग करता है उसको हम माइनर कहते हैं। माइनिंग करने के पश्चात उसको जो वोट कौन दिया जाती है वह उससे किसी भी बोल कर पैसे कमा सकते हैं.

Bitcoin का इस्तेमाल क्यों किया जाता है?

जैसा कि मैं आपको पहले ही बता चुकी हूं यह एक डिसेंट्रलाइज्ड करेंसी है जो किसी भी गवर्नमेंट के अंतर्गत नहीं आती है। फेस का सिंपल सा अर्थ है इस करेंसी के ऊपर हम सभी का कंट्रोल है अपने अकॉर्डिंग करेंसी को प्रभावित कर सकते हैं। जिससे आप इस करेंसी के माध्यम से अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं। दूसरा बिटकॉइन एक डिजिटल करेंसी है इसके जरिए ट्रेंडिंग शॉपिंग ट्रांजैक्शन या कई सारी एक्टिविटीज कर सकते हैं।

सिंपल सी भाषा में कहें तो जिस प्रकार आप रुपए से अपनी सभी इच्छाओं को पूरी करते हैं उसी प्रकार आप बिटकॉइन के माध्यम से भी कर सकते हैं। हमारे देश में बिटकॉइन को खरीदने के लिए कौन कौन से दस्तावेज होनी चाहिए दोस्तों हमारे भारत के अंदर इस बिटकॉइन करेंसी को खरीदने के लिए सबसे पहले कोई एक वॉलेट को सेलेक्ट करना है। वॉलेट सिलेक्ट करने के पश्चात आपको उसके अंदर एक अकाउंट बनाना है। अकाउंट बनाने के पश्चात अगली प्रोसेसिंग आप किस प्रकार अपने अकाउंट को वेरीफाई करना चाहते हैं। Account verification के प्रोसेस को हम केवाईसी कहते हैं। अकाउंट को वेरीफाई करने के लिए आपको ईमेल एड्रेस मोबाइल नंबर पैन कार्ड आधार कार्ड ऑफ बैंक डीटेल्स सभी डाक्यूमेंट्स की आवश्यकता होती है।

Conclusion

दोस्तों आज की इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको बताया है बिटकॉइन क्या है बिटकॉइन कैसे खरीदें अगर आप हमारी आज की जानकारी अच्छी लगी है तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें और इसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भी शेयर करना बिल्कुल ना भूलें।आज हमने आपको Bitcoin के बारे में संपूर्ण जानकारी देने की कोशिश की है तो हमें उम्मीद है कि आपको हमारी आज की जानकारी पसंद आई होगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published.